LIC Share Price: 📊 LIC के शेयरों में जोरदार तेजी, वजह जानेंगे तो बाजार खुलते ही खरीद लेंगे Full Detail।

Life Insurance Corporation of India (LIC) के शेयर शुक्रवार को लगभग चार प्रतिशत बढ़कर बंद हुए। कंपनी के शेयर 7.25 प्रतिशत बढ़कर रु. 820.05 के 52-सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया।

LIC Share Price

Life Insurance Corporation of India (LIC Share Price)

LIC Share Price सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन Indian Share Market में उथल-पुथल भरी तेजी देखने को मिली। 30 शेयरों वाला Sensex 241.86 अंक या 0.34 प्रतिशत बढ़कर 71,106.96 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 394.45 अंक तक चढ़ गया था। National Stock Exchange’s Nifty भी 94.35 अंक यानी 0.44 प्रतिशत बढ़कर 21,349.40 अंक पर बंद हुआ। इस बीच, दिन के दौरान LIC के Sahre शुक्रवार को लगभग चार प्रतिशत बढ़कर बंद हुए।

BSE पर दिन के कारोबार के दौरान कंपनी के शेयर 7.25 प्रतिशत बढ़कर 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर 820.05 रुपये पर पहुंच गए। अंत में यह 3.73 फीसदी की बढ़त के साथ 793.10 रुपये पर बंद हुआ। NSE पर कंपनी के Share 3.62 प्रतिशत बढ़कर 792.20 रुपये पर बंद हुए। दिन के कारोबार के दौरान यह 7.39 फीसदी बढ़कर 821 रुपये पर पहुंच गया, जो इसका 52 हफ्ते का उच्चतम स्तर है। कंपनी का बाजार मूल्यांकन भी 18,057.88 करोड़ रुपये बढ़कर 5,01,635.57 करोड़ रुपये हो गया है।

Share Price क्यों बढ़ीं?

Government द्वारा 10 वर्षों में 25 प्रतिशत Minimum Public Shareholding (MPS) हासिल करने की अनुमति देने के बाद LIC Share में उछाल आया है। देश की सबसे बड़ी Insurance Company LIC मई 2022 में लिस्ट हुई थी। सरकार ने प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के माध्यम से LIC में 22.13 करोड़ से अधिक शेयर या 3.5 प्रतिशत हिस्सेदारी बेची। फिलहाल कंपनी में सरकार की 96.5 फीसदी हिस्सेदारी है। पिछले एक महीने में LIC के शेयरों में करीब 30 फीसदी की तेजी आई है। करीब 6 महीने में 24 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है, जबकि एक साल में 16 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

Stock Exchange को दिए एक खुलासे में, LIC ने कहा कि आर्थिक मामलों के विभाग ने LIC को लिस्टिंग की तारीख से 10 साल के भीतर यानी मई 2032 तक न्यूनतम 25 प्रतिशत Minimum Public Shareholding हासिल करने के लिए एकमुश्त रियायत दी है। सरकार ने इस साल की शुरुआत में सूचीबद्ध Public Sector Companies और Banks को सार्वजनिक हित में निजीकरण के बाद भी 25 प्रतिशत Minimum Public Shareholding आवश्यकता से छूट देने के लिए नियमों में संशोधन किया।

IPO Pricing अभी भी काफी दूर है

LIC ने इसी साल बाजार में IPO लॉन्च किया था। इस Share की लिस्टिंग 17 मई 2022 को हुई थी। हालांकि, लिस्टिंग के बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट आई। कंपनी के शेयर करीब 9 फीसदी डिस्काउंट पर बाजार में लिस्ट हुए। सरकारी हिस्सेदारी वाले इस IPO का आकार 20,557 करोड़ रुपये था। इसे 2.95 गुना सब्सक्राइब किया गया था।

अगर हम LIC Share की तुलना IPO से करें तो फिलहाल कंपनी के Share 800 के आसपास हैं। जबकि IPO का प्राइस बैंड 902 रुपये से 949 रुपये तय किया गया था। इस गणित से यह स्पष्ट है कि IPO में आवंटित शेयर अभी भी घाटे में हैं। हालाँकि, पिछले 6 महीनों में कंपनी के शेयरों में 24 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, जिससे घाटा थोड़ा कम हुआ है।

शेयर मार्केट कैसे सीखे?

Disclaimer: moneyyukti केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए News प्रदान करता है और इसे निवेश सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। पाठकों को कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले एक योग्य वित्तीय सलाहकार से परामर्श करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

होम पेजयहां क्लिक करें
Join Us On Google NewsJoin Now
Follow On InstagramJoin Now
Follow On FacebookJoin Now
Follow On YouTubeJoin Now
Follow On TwitterJoin Now
Follow On PinterestJoin Now
Follow On DailyMotionJoin Now
Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top